हमारे बारे में

फा़र्मरजो़न, भारतीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अंतर्गत जैव प्रौद्योगिकी विभाग ट्वारा विकिसत एक प्लेटफार्म है, ऐसी कल्पना है कि ये सहज ज्ञान युक्त क्लाउड सेवा कई स्रोतों से डाटा एकत्र कर उसका तुलनात्मक तरीके से विश्लेषण कर किसानों को मृदा, जल, किट - नियत्रण, जलवायु परिवर्तन और बीज की आवश्यकताओं से सम्बंधित जानकारी प्रदान करेगी। फा़र्मरजो़न का एक हिस्सा मार्केटजो़न, छोटे-छोटे किसानों के उत्पादों को साध्य बाजारों से जोडेगा।

विज्ञान, प्रौद्योगिकी, नवाचार एवं कृषि पारिस्थितिक तंत्र को एकीकृत कर प्रभावी कृषि-संबंधी निर्णय से खाद्य कमी का संबोधन और सतत भविष्य का निर्माण।

फा़र्मरजो़न मॉडल

पहला सेंटीनेल: आलू

फा़र्मरजो़न कृषि से संबंधित उचित गुणवत्ता के डाटा को क्लाउड में पहुंचाने, किसानों से जुड़े सेंटीनल साइट के विकसित करने पर काम कर रहा है। फा़र्मरजो़न संघ ने डीबीटी की पहल के तहत पहला सेंटीनेल का प्रारंभ पंजाब और उत्तर प्रदेश के पायलट स्थलों में आलू की खेती करने वाले किसानों के लिए किया है। पहला सेंटीनेल प्रारंभिक चरण में पंजीकृत किसानों को मिट्टी और अन्य कृषि इनपुट पर आंकड़े प्रदान करेगा। यह आंकड़े मध्य सितंबर से शुरू होने वाले बुवाई के मौसम की शुरुआत में उनकोे उपलब्ध कराए जाएंगे।

फा़र्मरजो़न कृषि से संबंधित उचित गुणवत्ता के डाटा को क्लाउड में पहुंचाने, किसानों से जुड़े सेंटीनल साइट के विकसित करने पर काम कर रहा है। फा़र्मरजो़न संघ ने डीबीटी की पहल के तहत पहला सेंटीनेल का प्रारंभ पंजाब और उत्तर प्रदेश के पायलट स्थलों में आलू की खेती करने वाले किसानों के लिए किया है। पहला सेंटीनेल प्रारंभिक चरण में पंजीकृत किसानों को मिट्टी और अन्य कृषि इनपुट पर आंकड़े प्रदान करेगा। यह आंकड़े मध्य सितंबर से शुरू होने वाले बुवाई के मौसम की शुरुआत में उनकोे उपलब्ध कराए जाएंगे।

वर्तमान में फा़र्मरजो़न के विकासशील है और हम सभी से ऐसे सुझाव लेे रहे हैं, जो किसानों को ऐसी जानकारी से सशक्त बनाएंगे जो उनकी उपज और आजीविका में सुधार करे। यदि आपके पास हमारी विकास प्रक्रियाओं के लिए कोई विचार और इनपुट हैं, तो हम आपसे अनुरोध करते हैं कि कृपया अपना सुझाव नीचे दर्ज करें।
Looks good!
Looks good!
फा़र्मरजो़न के लिए सुझाव बॉक्स
भागीदार
(डीबीटी संचालित पहल के तहत)
भागीदार
(डीबीट संचालित पहल के तहत)
{{text}}